Hamar Dhamtari

'बेरोजगारी के कारण भारत में उभरे मोदी, अमेरिका में जीते ट्रंप' : राहुल गांधी

प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी के छात्रों से मुलाकात के दौरान भाजपा सरकार की नीतियों पर सवाल खड़े किए

No image
नई दिल्ली. दो हफ्ते की अमेरिका यात्रा पर आए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी के छात्रों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार की नीतियों पर सवाल खड़े किए. राहुल ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा. राहुल ने कहा कि दुनिया में तेजी से बढ़ती बेरोजगारी से परेशान लोग नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप जैसे नेताओं को चुन रहे हैं. भारत भी बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहा है. इसके कारण ही मोदी सत्ता तक पहुंचे हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि रोजगार लोगों को सशक्त करने, अधिकार संपन्न बनाने और राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में उन्हें शामिल करने का एक समावेशी माध्यम है. उन्होंने साथ ही स्वीकार किया कि उनकी पार्टी पर्याप्त संख्या में रोजगार के अवसर पैदा नहीं कर सकी. यही 2014 में उनकी पार्टी की हार का कारण बना. उन्होंने कहा, 'अमेरिका और भारत में रोजगार का सवाल है. हमारी आबादी का एक बड़ा हिस्सा है, जिसके पास कोई नौकरी नहीं है. कोई भविष्य दिखाई नहीं दे पाने के कारण वह परेशान हैं. मोदी और ट्रंप ने इस तरह के नेताओं को समर्थन दिया है.'

राहुल ने कहा, 'मैं ट्रंप को नहीं जानता. इसलिए उनके बारे में बात नहीं करूंगा. मैं मोदी के बारे में बात करूंगा. निश्चित तौर पर हमारे प्रधानमंत्री (रोजगार सृजन के लिए) पर्याप्त कदम नहीं उठा रहे हैं.' कांग्रेस उपाध्यक्ष ने अमेरिका में विशेषज्ञों, प्रमुख कारोबारियों और सांसदों के साथ अपनी बैठक में बेरोजगारी का मामला बार-बार उठाया है. उन्होंने बर्कले में यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया को संबोधित करते हुए कहा, 'अभी, हम पर्याप्त नौकरियां पैदा नहीं कर रहे हैं. हर दिन रोजगार बाजार में 30,000 नए युवा शामिल हो रहे हैं. इसके बावजूद सरकार प्रतिदिन केवल 500 नौकरियां पैदा कर रही है. इसमें बड़ी संख्या में पहले से ही बेरोजगार चल रहे युवा शामिल नहीं हैं.'

राहुल ने कहा कि भारत को चीन के साथ मुकाबला करने के लिए खुद को बदलने की जरूरत है. इसके लिए देश के लोगों को रोजगार देना होगा. उन्होंने कहा, 'जो लोग (एक दिन में) 30,000 नौकरियां पैदा नहीं कर पाने के कारण हमसे नाराज थे, वही अब मोदी से भी नाराज होने वाले हैं.' उन्होंने भारत में ध्रुवीकरण का मामला भी उठाया. राहुल गांधी ने कहा, 'ध्रुवीकरण की राजनीति भारत में मुख्य चुनौती है. 21वीं सदी में यदि आप कुछ लोगों को अपनी सोच से बाहर रख रहे हैं, तो आप संकट को बुलावा दे रहे हैं. नए विचार आएंगे, तो नई सोच विकसित होगी.'

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, 'भारत एक अस्थिर पड़ोस में रह रहा है और अगर हम अपने ही लोगों को अलग-थलग कर देंगे, तो इससे लोगों को गड़बड़ी करने का मौका मिल जाएगा.' यूनिफॉर्म सिविल कोड के सवाल पर उन्होंने कहा कि इस पर अदालत को निर्णय लेना है. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें कांग्रेस पार्टी की बागडोर सौंपी जाती है, तो अगले 10 वर्ष के लिए भारत के लिए एक नई दृष्टि का निर्माण करना उनके काम का बड़ा हिस्सा होगा.
hamar-dhamtari-whatsapp-logoShare

Comments on News

इन्हें भी देखे

dhamtari news न्याय की तीसरी बयार भूमिहीन ग्रामीणों के साथ भी होगा न्यायः कांग्रेस
dhamtari news धान खरीदी का समय सीमा 15 फरवरी बढ़ाने की मांग, 31 जनवरी को सभी सोसायटी मे धरना-प्रदर्शन
dhamtari news रमन सिंह झूठे, झूठी उनकी पार्टी, कांग्रेस रोजगार देने में विश्वास करती है-कांग्रेस
dhamtari news मीसाबंदियों को नैतिकता के आधार पर स्वतः पेंशन छोड़ देना चाहिए - कांग्रेस
dhamtari news कांग्रेस ने बनाया सदस्यता अभियान के लिए विधानसभावार प्रभारी
dhamtari news अखिल भारतीय सेवाओं के काडर नियमों में संशोधन सहकारी संघवाद की मान्य परंपराओं के विपरीत - कांग्रेस
dhamtari news भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने सीएम भूपेश बघेल को लिखा पत्र, पढ़िए
dhamtari news शासन को चेतावनी के बावजूद कार्यवाही नहीं, पूर्व मंत्री राजेश मूणत बैठेंगे धरने पर
dhamtari news भाजपा ने ली पत्रकार वार्ता, कहा - छत्तीसगढ़ में आज चहुँओर प्रदेश सरकार ने आतंक का वातावरण
dhamtari news छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के 4509 नए मरीज, 19 की मौत

Follow Us

विडियो

Email : hamardhamtari@gmail.com