Hamar Dhamtari

नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी प्रौढ़ शिक्षा के पाठ्यचर्या में होगी शामिल

No image
रायपुर।   राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद रायपुर में राज्य की पाठ्यचर्या की रूपरेखा के विकास के संदर्भ में राज्य संचालन समिति की बैठक में पूर्व प्रशासनिक अधिकारी एवं शिक्षाविद् डॉ. सुशील त्रिवेदी ने सुझाव दिया कि बच्चों की प्रारंभिक शिक्षा मातृभाषा में होनी चाहिए। शिक्षा में त्रिभाषा फार्मूला लागू हो, भाषा सिखाने के साथ-साथ संप्रेषण कौशल पर जोर दिया जाना चाहिए। उन्होंने प्रौढ़ शिक्षा के संदर्भ में उनका कहना था कि प्रौढ़ शिक्षा के अंतर्गत नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी और वनांचल क्षेत्रों के लिए वनोपज केंद्रों में इस कार्यक्रम को जोड़ा जाना चाहिए। डॉ. त्रिवेदी ने कहा कि आंकलन पद्धति में बदलाव की जरूरत है, राज्य की विविधता को देखते हुए आंकलन योजना तैयार करनी चाहिए। प्रारंभिक शिक्षा से संबंधित सभी विभागों को एकजुट होकर काम करना चाहिए। 

उल्लेखनीय है कि पाठ्यचर्या की रूपरेखा स्कूल शिक्षा के प्रत्येक पहलू को दिशा निर्देशित करने वाला दस्तावेज होता है। नई शिक्षा नीति 2020 के अनुसार चार पाठ्यचर्याएं- स्कूल शिक्षा,  ईसीसीई, शिक्षक-शिक्षा और प्रौढ़ शिक्षा का विकास किया जाना है। एनसीईआरटी के अपर संचालक डॉ.योगेश शिवहरे ने विश्वास जताया कि राज्य की आवश्यकता और संस्कृति के अनुकूल ही राज्य की पाठ्यचर्या तैयार की जाएगी। उन्होंने कहा कि पाठ्यचर्या इस तरह तैयार करें कि प्रत्येक बच्चे को विकास के समुचित अवसर प्राप्त हो सकें।

राज्य में प्रारंभिक शिक्षा के प्रत्येक पहलू के विकास पर जोर दिया जा रहा है। इसके लिए राज्य में बालवाड़ी का संचालन किया जा रहा है, जिससे बच्चे प्रारंभिक साक्षरता और संख्या ज्ञान में महारत हासिल कर सकें और उनके सीखने की नींव मजबूत हो। आगे की कक्षाओं की शिक्षा के लिए भी इसी तरह की पुख्ता रणनीति तय करनी होगी। जिससे बच्चे अपेक्षित स्तर को प्राप्त कर सकें। 

 एनएच गोयल स्कूल की श्रीमती कल्पना चौधरी का कहना था कि बच्चों को विषयों के चुनाव और व्यवसायिक कौशल के संबंध में स्कूल कॉन्प्लेक्स की अवधारणा कारगर सिद्ध होगी। स्टेट स्टीयरिंग कमेटी के समक्ष 4 विषयों पर प्रस्तुतीकरण दिया गया। ईसीसीई अर्थात बाल्य शिक्षा देखभाल विषय पर श्री सुनील मिश्रा ने स्कूल शिक्षा, सुश्री नीलम अरोरा ने शिक्षक-शिक्षा विषय, श्री आलोक शर्मा और राज्य साक्षरता मिशन के सहायक संचालक श्री प्रशांत पांडेय ने प्रौढ़-शिक्षा पर प्रभावशाली प्रशिक्षण दिया।
hamar-dhamtari-whatsapp-logoShare

Comments on News

इन्हें भी देखे

dhamtari news मैट्स यूनिवर्सिटी में स्वतंत्रता दिवस का रंगारंग आयोजन
dhamtari news बस्तर जिले में मना स्वतंत्रता दिवस, संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव ने किया ध्वजारोहण
dhamtari news मुख्यमंत्री ने दीवार ढहने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मृत्यु पर जताया शोक
dhamtari news ​​​​​​​मुख्यमंत्री ने पारसी नववर्ष की दी शुभकामनाएं
dhamtari news मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्रता दिवस पर अपने निवास में किया ध्वजारोहण
dhamtari news राज्य के 422 स्कूलों में लागू होगी स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट विद्यालय योजना: भूपेश बघेल
dhamtari news छत्तीसगढ़ में अब तक 885.1 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज
dhamtari news मुख्यमंत्री ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड में किया ध्वजारोहण
dhamtari news मुख्यमंत्री ने प्रदेश के तीन उत्कृष्ट स्वावलंबी गौठानों को किया सम्मानित
dhamtari news मुख्यमंत्री ने रायपुर स्मार्ट सिटी के नवीन कार्यालय भवन का किया लोकार्पण

Follow Us

विडियो

Email : hamardhamtari@gmail.com