Hamar Dhamtari

गौ-धन की मौत के लिए सरपंच-सचिव पर ज़िम्मा थोपकर सरकार का अपनी ज़वाबदेही से मुंह मोड़ना शर्मनाक: भाजपा

No image
रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने तखतपुर ब्लाक के ग्राम मेड़पार बाजार में हुई गौ-धन की मौत की दु:खद घटना के परिप्रेक्ष्य में प्रदेश सरकार द्वारा सरपंच और पंचायत सचिव पर ज़िम्मा थोपे जाने और अपनी ज़वाबदेही से मुंह मोड़ने के कृत्य को शर्मनाक बताकर इस पूरे मामले की ईमानदारी से जांच कराने की ज़रूरत पर बल दिया है। 
श्री उपासने ने कहा कि राज्य सरकार इस तरह अपनी नाकामी का ठीकरा दूसरों के सिर फोड़कर अपनी ज़वाबदेही से पल्ला नहीं झाड़ सकती। राज्य सरकार गायों की मौत पर मुआवजा की घोषणा कर गो-पालकों को फौरी राहत देवें । उन्होंने कहा कि मेड़पार बाजार की दु:खद घटना यक़ीनन प्रदेश सरकार के नाकारेपन की एक ऐसी मिसाल है, जिसने न केवल प्रदेश की ग्राम्य-संस्कृति और परंपराओं का कांग्रेसीकरण कर उसे बदनाम करने की घिनौनी मानसिकता को बेनक़ाब किया है, अपितु मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सत्तालोलुपता से उपजी सियासी लफ्फाजियों के चलते प्रदेश की जनभावनाओं से हो रहे खिलवाड़ पर से पर्दा हटाया है। 
उन्होंने कहा कि नेतृत्वहीन और अपने आप में कंफ़्यूज़्ड प्रदेश सरकार की हर योजना उसके राजनीतिक चरित्र में रची-बसी बदनीयती और कुनीतियों की प्रतीक बनकर रह गई है। नरवा-गरुवा-घुरवा-बारी योजना के बुरे हश्र और गौठानों की बदइंतज़ामी व बदहाली से सबक लेने के बजाय प्रदेश सरकार ने बिना कोई विचार किए एक और रोका-छेका योजना प्रदेश पर थोप दी, जो दीग़र योजनाओं की तरह औंधे मुंह गिर पड़ी है।
उन्होंने कहा कि गौठानों के नाम पर मुख्यमंत्री बघेल ने जितनी ऊर्जा शोर मचाने में खर्च की है, उसकी आधी ऊर्जा भी यदि वे इन गौठानों की अच्छी व्यवस्था बनाने में खर्च करते तो पशुधन की लगातार हो रहीं मौतें प्रदेश को चिंतित और विचलित नहीं करतीं। पर जिस सरकार के पास सत्तालोलुपता के अलावा कोई विचार और दृष्टिकोण ही नहीं है, उससे हवा-हवाई बातों के जमाखर्च और झूठी वाहवाही के अलावा कोई और अपेक्षा रखना बेमानी है। 
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार आधी-अधूरी तैयारियों के साथ योजनाएं लागू कर रही है, लेकिन उन योजनाओं के ब्ल्यू-प्रिंट के बारे में प्रदेश को अनभिज्ञ रखा जा रहा है। सरकार से ब्लू प्रिंट की जानकारी मांगने पर विपक्ष को ब्लैक प्रिंट की धमकी देकर आवाज़ दबाने की नाकाम कोशिश की जाती है। उन्होंने चेतावनी दी कि विपक्ष को ब्लैक प्रिंट की धमकी देने के बजाय मेड़पार बाजार में लगभग 70 से अधिक गायों की मौत की सूचना पर कारगर कार्रवाई करे और अपनी ज़वाबदेही स्वीकार कर सरपंच-सचिव पर अपने नाकारेपन का ठीकरा फोड़ने से बाज आए।

hamar-dhamtari-whatsapp-logoShare

Comments on News

इन्हें भी देखे

dhamtari news भाजपा के तीन सांसदों ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को लिखा पत्र, किया ये आग्रह
dhamtari news मोदी सरकार के नये अध्यादेश से किसान पूंजीपति नही बल्कि पूंजीपतियों का गुलाम बनेंगे: कांग्रेस
dhamtari news छत्तीसगढ़ कोरोना के चंगुल में त्राहि-त्राहि कर रहा, अन्य राज्यों के मुक़ाबले संक्रमण की सबसे ज़्यादा मार सह रहा : उपासने
dhamtari news दहशतगर्द और विध्वंसक नक्सलियों के सफाए के लिए प्रदेश सरकार कब दिखाएगी आक्रामकता: संजय
dhamtari news लॉकडाउन सफल हो, इसके लिए प्रदेश सरकार पीडीएस राशन आपूर्ति, टेस्टिंग व इलाज के लिए पर्याप्त इंतज़ाम पर ध्यान दे : संजय
dhamtari news सिर्फ दंतेवाड़ा तक नहीं पूरे प्रदेश में चल रही पीडीएस घोटाला और हेराफेरी - महेश गागड़ा
dhamtari news एनसीपी ने मरवाही उपचुनाव चुनाव समिति का किया गठन
dhamtari news राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम ने केंद्रीय संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद को लिखा पत्र
dhamtari news कृषि कानून के खिलाफ कांग्रेस आज बनाएगी आंदोलन की रणनीति, होगी दो बैठकें
dhamtari news दहशतगर्द और विध्वंसक नक्सलियों के सफाए के लिए प्रदेश सरकार कब आक्रामकता दिखाएगी: संजय

Follow Us

विडियो

Email : hamardhamtari@gmail.com