कुष्ठ पखवाड़ा का आयोजन 30 जनवरी से 13 फरवरी तक

धमतरी। धमतरी को कुष्ठ मुक्त जिला बनाने के लिये महात्मा गांधी की पुण्य तिथि 30 जनवरी से आगामी 13 फरवरी तक कुष्ठ पखवाड़ा का आयोजन किया जायेगा। इस दौरान स्कूलों में बच्चों को कुष्ठ बीमारी की जानकारी एवं उनके भ्रांतियों पर चर्चा, निबंध प्रतियोगिता एवं अन्य गतिविधियां आयोजित की जायेंगी। इसके अलावा मितानिन एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ता द्वारा ग्राम एवं शहर स्तर पर घर-घर सर्वे कर नये रोगी का पंजीयन और उपचार की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर किया जायेगा। साथ ही कलेक्टर नम्रता गांधी द्वारा प्रचार रथ को हरी झण्डी दिखाकर जिले के सभी विकासखण्डों में स्थित गांवों के लिये रवाना किया जायेगा।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.के.मण्डल ने बताया कि ’आजादी के अमृत महोत्व पर भारत को कुष्ठ मुक्त की ओर’ थीम पर जिले में कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके तहत ग्राम पंचायतों में ग्रामसभा आयोजित कर मितानिन, स्वास्थ्य कार्यकर्ता और विभागीय अमले द्वारा कुष्ठ प्रभावितों के साथ मित्रवत् व्यवहार, भेदभाव को दूर करना, कुष्ठ प्रभावित व्यक्ति को ग्रामसभा प्रमुख द्वारा सम्मानित मेहमान का दर्जा देकर सम्मानित करना व कुष्ठ उपचारित द्वारा प्रचार-प्रसार करने संबंधी गतिविधियों की जायेगी।

कृष्ठ रोग से मुक्ति के लिये छोटी-छोटी महत्वपूर्ण बातों के बारे में सीएमएचओ ने बताया कि जांच के अनुसार दवाई का नियमित सेवन, जल्द जांच समय से इलाज, चमड़ी पर सुन्नपन दाग, तेलिया तामिया चमक वाले चकते कुष्ठ रोग के लक्षण हो सकते हैं। शंका होने पर नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्र पर सम्पर्क कर उपचार की सभी निःशुल्क दवाइयां प्राप्त की जा सकती हैं। इससे कुष्ठ रोग पूरी तरह से ठीक हो जाता है। डॉ.मण्डल ने यह भी बताया कि जिले में कुष्ठ रोग संक्रमित 169 में से 155 पूरी तरह से ठीक हो गये हैं। कलेक्टर सुश्री गांधी ने जिलेवासियों से अपील की है कि कुष्ठमुक्त जिला बनाने के लिये सर्वेक्षण दल का सहयोग करें।

Leave a Comment

Notifications