जनकल्याणकारी कार्यों के लिए डीएमएफडी मद को किया जाए उपयोग: केदार कश्यप

रायपुर। वन मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि जिन कार्यों में विभागीय बजट का प्रावधान नहीं हो उन जनकल्याणकारी कार्यों के लिए डीएमएफडी मद को उपयोग किया जाए। डीएमएफटी मद में स्वास्थ्य क्षेत्र को प्राथमिकता में रखा जाए ताकि स्वास्थ्य के लिए बेहतर व्यवस्था किया जा सके। साथ ही उन्होंने नदियों के किनारे विद्युतीकरण, देवगुड़ी जीर्णाेद्धार, पंचायतों को सक्षम बनाने की आवश्यकता को जैसे किए जा सकते है। साथ ही डीएमएफडी मद से स्वीकृत अधोसंरचना निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जाए और जनपद स्तर पर डीएमएफडी मद के कार्यों का विवरण रखा जाए। इसके अलावा राज्य और केंद्र की योजनाओं का सुचारू संचालन किया जाए।
वन मंत्री केदार कश्यप आज जगदलपुर जिला मुख्यालय में वित्तीय वर्ष 2023-24 के डीएमएफटी मद से संचालित कार्यों की प्रगति की समीक्षा कि । इसके साथ ही वित्तीय वर्ष 2024-25 के कार्ययोजना पर चर्चा किया गया। बैठक में विभागवार कार्यों की प्रगति की समीक्षा किया गया।
बैठक में जगदलपुर विधायक किरण देव ने कहा कि जनप्रतिनिधि-अधिकारी एक दूसरे से समन्वय कर क्षेत्र के विकास कार्यों को गति देंगे। बस्तर अंचल में विकास कार्यों के तहत मूलभूत संरचना का निर्माण किया जा रहा है इसका लाभ आम नागरिकों मिलेगा। कलेक्टर विजय दयाराम के. ने कार्यों के संबंध में जानकारी दी।बैठक में पेयजल समस्या, प्राचीन तालाबों का संरक्षण, सामूहिक खेती को बढ़ावा,फलदार पौधरोपण, बड़े ग्रामों में दो उचित मूल्य की दुकानों संचालन, बड़ी पंचायतों में रोजगार के साधनों का विकास जैसे प्रस्तावों पर चर्चा किया गया। साथ ही चित्रकोट विधायक श्री विनायक गोयल और शासी परिषद के सदस्यों द्वारा उनके क्षेत्र के समस्या और अन्य विषय रखे गए जिसमें संबंधित विभाग के अधिकारी को कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए।

Leave a Comment

Notifications