हीरा लाल ने पहचान कर बताया कितने का नोट हैं

अंक को पहचानने में हो रही कठिनाइयों को उल्लास कार्यक्रम दूर करेगा
एनसीईआरटी के शिक्षाविदों ने कमार बस्ती में जाकर किया फील्ड टेस्ट

महासमुन्द। एनसीईआरटी के प्रोफेसर डॉ. उषा शर्मा राष्ट्रीय प्रभारी सीएनसीएल, प्रशांत पांडेय सहायक संचालक एवं नोडल अधिकारी राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण, एनसीईआरटी सीएनसीएल सलाहकार अमन गुप्ता एवं भावना खरे ने आज ग्राम झालखम्हरिया के कमार डेरा में जाकर पाठ्य सामग्री का फील्ड टेस्ट किया। उल्लेखनीय है कि उल्लास नवभारत साक्षरता कार्यक्रम अंतर्गत उल्लास केंद्र के शिक्षार्थियों का पाठ्य सामग्री का फील्ड टेस्ट हेतु महासमुंद के ग्राम झालखम्हरिया का चयन किया गया था।
राष्ट्रीय साक्षरता मिशन प्राधिकरण के उल्लास नवभारत साक्षरता कार्यक्रम तहत असाक्षर शिक्षार्थियों हेतु एनसीईआरटी द्वारा तैयार की गई पाठ्य सामग्रियों का कमार पारा,झालखम्हरिया के असाक्षर शिक्षार्थियों हीरालाल, रमऊ, रामेश्वर, फूलमत, गया बाई, पुन्नी बाई, सूरज कमार, बैशाखू, राकेश, लोकेश्वरी, दीना, संगीता, मानकुवर, मधु कमार, रोहणी, बिमला, फूलेश्वरी, मनीषा, रामसिंग, फूलबाई, देवेंद्र के साथ एनसीईआरटी नई दिल्ली की सीएनसीएल राष्ट्रीय प्रभारी डॉ. उषा शर्मा के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में एनसीईआरटी के अमन गुप्ता, भावना खरे द्वारा पढ़ना लिखना गढ़ना उद्देश्य और लक्ष्य की पूर्ति हो पा रहा है या नहीं का परीक्षण किया गया। जिसमें सभी शिक्षार्थी ने उत्साह के साथ अपनी सहभागिता निभाई।
पाठ्य सामग्री शिक्षार्थी को सीखने की प्रक्रिया का क्रियान्वयन करने में प्रशांत पाण्डेय सहायक संचालक एवं नोडल अधिकारी राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण, श्रीमती मीता मुखर्जी जिला शिक्षा अधिकारी महासमुन्द, श्रीमती मीना पाणिग्रही प्राचार्य डाइट, रेखराज शर्मा जिला परियोजना अधिकारी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण महासमुंद, श्री यशवंत साहू, सरपंच ग्राम पंचायत झालखमरिया, अरुण प्रधान सहायक प्राध्यापक डाइट, लीलाधर सिन्हा बीईओ महासमुंद, सम्पा बोस एपीसी समग्र शिक्षा, गजेंद्र ध्रुव एबीईओ, जागेश्वर सिन्हा बीआरसीसी महासमुंद, ईश्वर चंद्राकर फैकल्टी डाइट, बद्रिका ध्रुव साक्षरता नोडल अधिकारी बागबाहरा, ईश्वर कमार, अनिल ढ़ीढ़ी, गीता यादव, शशिकला निराला सहित प्रशासनिक एवं अकादमिक अमला सहायोग हेतु उपस्थित थे। फील्ड टेस्ट के पश्चात सुमित्रा राम सिंह कमार के आग्रह पर उनके घर जाकर अधिकारियों ने भोजन ग्रहण किया।

Leave a Comment

Notifications