जिले के सभी पात्र हितग्राहियों को योजनाओं से करें लाभान्वित – मंत्री दयालदास बघेल

रायपुर। प्रदेश के खाद्य, नागरिक आपूर्ति उपभोक्ता संरक्षण विभाग एवं जिले के प्रभारी मंत्री दयालदास बघेल ने आज राजिम के रेस्ट हाउस में केन्द्र एवं राज्य शासन की योजनाओं से संबंधित कार्यों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिले के अधिकारी शासन के मंशानुरूप कार्य करे। शासन द्वारा सभी वर्गो के हित के लिए योजनाएं संचालित की जा रही है। इसका लाभ पात्र लोगों तक पहुंचाने के लिए कहा हैं।
मंत्री बघेल ने समीक्षा बैठक लेकर संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि आम जनता के समस्याओं का समयबद्ध तरीके से समाधान और पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करें। उन्होंने विभिन्न विभागों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को जरूरी मार्गदर्शन एवं निर्देश दिये हैं। खाद्य विभाग के समीक्षा में उन्होंने कहा कि सभी पहुंचविहीन केन्द्रों में खाद्यान्न का भण्डारण सुनिश्चित हो। सभी पात्र हितग्राहियों का राशन कार्ड बनाने, राशन कार्ड नवीनीकरण कराने, प्रधानमंत्री उज्ज्वला गैस कनेक्शन दिलाने, खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 में उपार्जन केन्द्र से धान उठाव एवं जमा करने की जानकारी ली।
इस पर अधिकारियों ने बताया कि उपार्जन केन्द्र से धान का उठाव 87 प्रतिशत हो चुका है। अविवादित नामांतरण, विवादित नामांतरण, खाता विभाजन, सीमांकन, व्यपवर्तन, जल जीवन मिशन के तहत प्रगतिरत एवं अप्रारंभ कार्यो की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सभी गांवो के नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिले इसका विशेष ध्यान रखने के निर्देश देते हुए कहा कि जिन स्थलों के ठेकेदारों द्वारा सही तरीके से निर्माण कार्य नहीं किये जा रहे ऐसे ठेकेदारों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करे।
मंत्री बघेल ने लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन विभाग द्वारा बजट में स्वीकृत कार्यो की जानकारी लेते हुए उन कार्यो को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देष दिये। इसके अलावा मनरेगा, जॉब कार्ड, भुगतान की स्थिति, ऑगनबाड़ी भवन, प्रधानमंत्री आवास योजना, बैंक लिंकेज, राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिषन, स्वास्थ्य सहित अन्य विभागीय कार्यो की जानकारी ली। वन विभाग के समीक्षा के दौरान वनमण्डाधिकारी ने बताया कि राज्य कैम्पा मद से 21 हजार से अधिक पौधों का रोपण किया जायेगा।
किसान वृक्ष मित्र योजना के तहत जिले के 687 किसानों द्वारा 58 लाख से अधिक पौधे का रोपण किया गया है। वनधन योजना के क्रियान्वयन के लिए 216 ग्राम स्तर एवं 28 हॉट बाजार स्तर पर लघु वनोपज का कार्य किया जा रहा है। वनोपज के प्राथमिक प्रसंस्करण अंतर्गत 04 वन धन विकास केन्द्र की स्थापना देवभोग, मैनपुर, गरियाबंद एवं छुरा में किया गया है। वानिकी वर्ष 2023-24 में 38 प्रकार के लघु वनोपज को एमएसपी एवं 27 प्रकार के वनोपज को एसपी दर पर कुल 65 वनोपजों का संग्रहण किया जायेगा। पीएम जनमन योजना अंतर्गत वनधन केन्द्र विकास के स्थापना की गई है। इसके अलावा कृषि, पीएम किसान, महिला एवं बाल विकास विभाग,समाज कल्याण, जिला व्यापार उद्योग केन्द्र सहित अन्य विभागों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की।

Leave a Comment

[democracy id="1"]

Notifications