छाती संकुल में हुआ जोन स्तरीय प्रशिक्षण

कुरुद @ मुकेश कश्यप। छाती संकुल में जोन स्तरीय प्रशिक्षण के द्वितीय चरण में कार्य पत्रक ,पाठ्यपुस्तक ,मूलभूत संख्यात्मक एवं भाषाई कौशल(FLN) नवाजतन एवं अभ्यास पुस्तिका पर आधारित तीन दिवसीय जोन स्तरीय प्रशिक्षण में द्वितीय दिवस में बृजेश कुमार बाजपेई जिला शिक्षा अधिकारी धमतरी ने शिक्षको की मन की बात सुनी , प्रशिक्षण मे महोदय जी ने प्रशिक्षण के महत्व पर प्रकाश डाला एवं स्तर सुधार हेतु परिणाम मूलक कार्य करने हेतु सुझाव दिया गया । उनके द्वारा बताया गया कि योजना बनाकर काम करने से FLN कहि दूर नही है ,हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है ।शिक्षक किस प्रकार बच्चों के सर्वांगीण विकास में सहायक हो सकते हैं अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन बेहतर तरीके से करने की सलाह दी गई, साथ ही महत्वपूर्ण योजना सुघ्घर पढ़वईया में थर्ड पार्टी आंकलन हेतु पंजीयन। कार्ययोजना बना कर बच्चों को सीखाने पर जोर , दक्षता एवं LOs पर शिक्षकों से चर्चा,कार्य पुस्तिका सभी शालाओं में सभी बच्चों को देने एवं सरकार की विभिन्न योजनाओं को क्रियान्वयन सुनिश्चित करने कहा गया साथ ही विद्यालय में निर्धारित समय सारणी के अनुसार समय पर काम करने हेतु प्रशिक्षार्थियों को प्रेरित किया ।
इसी कड़ी में प्रशिक्षण के अंतिम दिवस पर ललित कुमार सिन्हा विकास खंड स्रोत समन्वयक समग्र शिक्षा धमतरी का आगमन हुआ ।उन्होंने अपने उद्बोधन में नवाजतन के 6 बिंदुओं पर विस्तार पूर्वक चर्चा किया,सीखने को कैसे सीखें आदि बिंदुओं पर चर्चा किया । उन्होंने एक उदाहरण -भवन निर्माण हेतु 20 वर्ष पहले बने नक्शे से वर्तमान में आप अपना घर निर्माण करेंगे क्या ? प्रशिक्षार्थियों ने उत्तर दिया नही । सर ने पूछा क्यो नही बनाएंगे? सब ने कहा वर्तमान के लिए पुराना डिजाइन उपयुक्त नही रहेगा । ठीक उसी प्रकार ,हमे वर्तमान में अपडेड होने की आवश्यकता है ।हमे पढ़ाने के तरीकों में बदलाव लाने होंगे ।नए -नए तरीकों से अपडेड होना पड़ेगा ,तकनीकी के इस युग मे टेक्नालॉजी का प्रयोग ,पाठ्य पुस्तकों का अलोकन कर पाठ योजना बनाकर कर FLN को प्राप्त करने के लिए ,निष्ठा 3.0 का उपयोग ,बच्चो में बुनियादी साक्षरता व बुनियादी गणितीय कौशल के साथ बच्चो को गणितीय करण करने का अवसर चुनौती वाले प्रश्न अधिक से अधिक दिया जाए ,ताकि बच्चो में समझ के साथ पढ़ने की प्रवाह में वृद्धि हो सके । कुछ इस तरह और उदाहरणों से प्रशिक्षार्थियों का मनोबल बढ़ाया ।प्रशिक्षार्थियों ने अपने विद्यालय स्तर में बच्चो के साथ बेहतर कार्य कर सभी बच्चो में कक्षा स्तर में बुनियादी भाषा व गणित के कौशल लाने हेतु संकल्पित होकर काम करने की बात कही गयी ।
इस अवसर पर छाती जोन के 20 प्रशिक्षार्थी जिसमे प्रधान पाठक व सहायक शिक्षक ,संकुल समन्वयक ,लोमप्रकाश सोनवानी छाती ,प्रितचंद गंगेले गोपालपुरी,भागबली जोशी झिरिया ,चोमन लाल जोशी डाही, मास्टर ट्रेनर -मनोज कुमार साहू उडेना ,पोखन लाल साहू डाही,लाला राम साहू बोडरा व अजीम प्रेम जी फाउंडेशन से राहुल जी का विशेष सहयोग रहा ।

Leave a Comment

Notifications