नेशनल बास्केटबॉल टूर्नामेंट में राज्य की बालिका टीम ने जीता स्वर्ण पदक

महासमुंद । 48वीं सब जूनियर नेशनल बॉस्केटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन पांडिचेरी में 3 अगस्त से 9 अगस्त 2023 तक आयोजित किया गया। जिसमें छत्तीसगढ़ ने मध्य प्रदेश को 107-33 से हराकर जीत हासिल किया, छत्तीसगढ़ ने पंजाब को 66-39 से हराकर जीत हासिल किया। जिसमें अंतरा राव ने 30, रूमी ने 04, गायत्री ने 09, दिव्या रंगारी ने 06, जेनी ने 02, आरुषि ने 04, निधि ने 06, स्वाति ने 02, प्रगति ने 03 अंक बनाए। अगले मैच में छत्तीसगढ़ ने उत्तरप्रदेश को 60-33 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

क्वार्टर फाइनल में छत्तीसगढ ने हरियाणा को 67-35 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। जिसमें महासमुंद की दिव्या ने 15 अंक और स्वाति ने 8 अंक बनाएं। सेमीफाइनल में छत्तीसगढ़ ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए महाराष्ट्र के विरुद्ध 67-47 से जीत हासिल करते हुए फाइनल में प्रवेश किया। टीम में दिव्या ने 14 अंक, आरुषि ने 4 अंक, निधि ने 7 अंक, पी.अंतरा राव ने 11 अंक, श्रृजल ने 02 अंक, रोमी ने 11 अंक, स्वाति यादव ने 11 अंक बनाए।
फाइनल मुकाबले में छत्तीसगढ़ का मुकाबला तमिलनाडु से हुआ जो बहुत ही रोमांचक रहा दोनों टीम बराबरी के स्कोर पर खेल रहीं थी। अंतिम क्वार्टर में छत्तीसगढ़ ने 49-47 से मैच जीतकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। स्वर्ण पदक विजेता टीम को पुरस्कार राशि 3 लाख रुपए प्रदाय किया गया।

महासमुंद जिले से बालिका वर्ग में दिव्या रंगारी एवं स्वाति यादव प्रदेश की टीम में शामिल रहें जिन्होंने जिले एवं प्रदेश का नाम रौशन किया। प्रदेश की बालक टीम में जिले के 3 खिलाड़ी शामिल रहें जिसमें आशीष शर्मा, आदित्य पटेल एवं सिद्धार्थ चंद्राकर शामिल रहें। छत्तीसगढ़ की बालक टीम ने अपना पहला लीग मैच वेस्ट बंगाल से 21-40 से हार गईं, दूसरा मैच छत्तीसगढ़ ने हिमाचल को 57-15 से हराया, तीसरा मैच छत्तीसगढ़ ने चंडीगढ़ को 78-60 से हराया। अगला मैच छत्तीसगढ़ ने उड़ीसा को 50-30 से हराया। अगले मैच में छत्तीसगढ़ ने मणिपुर को 39-21 से हराया एवं छत्तीसगढ़ का मुकाबला उत्तराखंड से हुआ जिसमें छत्तीसगढ को हार का सामना करना पड़ा एवं प्रतियोगिता से बाहर हो गई। टीम के कोच वीरेन्द्र देशमुख एवं सहायक कोच अभिषेक अंबिलकर शामिल रहे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications