जल जीवन मिशन: राज्य में 30.67 लाख से अधिक परिवारों को मिला घरेलू नल कनेक्शन

रायपुर। राज्य के ग्रामीण अंचलों में निःशुल्क घरेलू नल कनेक्शन देने का काम तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में जल जीवन मिशन के अंतर्गत घरों में शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए चलाए जा रहे इस अभियान के अंतर्गत 49 लाख 93 हजार 398 परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन दिए जाने के विरूद्ध वर्तमान में 30 लाख 67 हजार 292 घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं।

इसके साथ-साथ राज्य के 39 हजार 113 स्कूलों, 37 हजार 501 आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा 15 हजार 625 ग्राम पंचायत भवनों और सामुदायिक उप-स्वास्थ्य केन्द्रों में टेप नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की व्यवस्था की गई है। छत्तीसगढ़ का महासमुंद जिला 01 लाख 52 हजार 795 ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन देने में अग्रणी है। इसी तरह जांजगीर-चांपा 01 लाख 50 हजार 895, रायपुर जिले में 01 लाख 50 हजार 366 परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन देने में क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्रकुमार के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे इस जल जीवन मिशन के अंतर्गत राज्य में प्रति व्यक्ति, प्रतिदिन 55 लीटर के मान से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है, इसके लिए सभी जिलों में कार्ययोजना तैयार कर तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। इस मिशन के तहत घरेलू नल कनेक्शन के अतिरिक्त स्कूल, उप-स्वास्थ्य केंद्र एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में भी रनिंग वाटर की व्यवस्था की जा रही है। इसके साथ ही साथ राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी के अंतर्गत बनाए गए गौठानों में भी पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। उल्लेखनीय है कि सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी डॉ. एस. भारतीदासन एवं मिशन संचालक आलोक कटियार द्वारा जमीनी स्तर पर राज्य में सिंगल विलेज स्कीम और मल्टी विलेज स्कीम और अन्य पेयजल योजनाओं सहित जल जीवन मिशन के कार्यों का क्रियान्वयन की लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है।

जल जीवन मिशन के तहत अब तक रायगढ़ जिले में 01 लाख 38 हजार 716, धमतरी जिले में 01 लाख 35 हजार 779, बिलासपुर में 01 लाख 33 हजार 689, कवर्धा 01 लाख 32 हजार 854, बलौदाबाजार-भाटापारा में 01 लाख 32 हजार 607 घरेलू नल कनेक्शन दिए गए हैं। इसी प्रकार मुंगेली में 01 लाख 26 हजार 850, दुर्ग जिले में 01 लाख 20 हजार 960 तथा बालोद में 01 लाख 22 हजार 053 नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं। इसी तरह बेमेतरा जिले में 01 लाख 21 हजार 420, राजनांदगांव जिला 01 लाख 19 हजार 240, सक्ती में 01 लाख 12 हजार 373, गरियाबंद 97 हजार 149, बलरामपुर में 97 हजार 269, जशपुर में 94 हजार 436, कोरबा में 96 हजार 459, बस्तर में 95 हजार 536, सरगुजा जिले के 94 हजार 460 शुद्ध पेयजल के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिए गए हैं। सूरजपुर में 88 हजार 320, कोण्डागांव में 84 हजार 047, कांकेर 79 हजार 584, सांरगढ़-बिलाईगढ़ में 74 हजार 982, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में 52 हजार 013, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में 47 हजार 496, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 44 हजार 234, मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी में 33 हजार 389, सुकमा में 32 हजार 238, कोरिया में 30 हजार 110, दंतेवाड़ा में 27 हजार 476, बीजापुर 27 हजार 206 और नारायणपुर जिले में 18 हजार 291 ग्रामीण परिवारों को शुद्ध पेयजल के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications