आपको लगे कि मेरी कही गई बातें जमीन पर नहीं है तो मत दीजिएगा वोट – प्रियंका गांधी

कुरूद। छत्तीसगढ़ के दूसरे चरण के चुनावी दौरे में धमतरी जिले के कुरूद की चुनावी सभा में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा और मोदी सरकार को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि अगर आपको लगे कि प्रियंका गांधी ने बहुत सारी चीज बोली लेकिन हमें यह जमीन पर नहीं दिख रही है तो मत दीजिएगा वोट। जनसभा के दौरान मंच पर जिले की तीनों विधानसभा के प्रत्याशियों की मौजूदगी में उन्होंने जनता से कांग्रेस के पक्ष में वोट डालने की अपील की।
उन्होंने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा कि यहां की सरकार ने गोबर खरीद कर दिखा दिया । यहां के किसानों का धान अच्छे कीमत पर खरीद कर दिखा दिया, यहां के गरीबों के जेब में पैसा डालकर दिखा दिया। वहीं उन्होंने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की सरकार देश की संपत्तियों को निजी हाथों में बेच रही है।
प्रियंका गांधी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनमें एक बुरी आदत डल गई है कि चुनाव आते ही उनसे खोकली घोषणाएं हो जाती हैं। चुनाव की तैयारी में लोगों को लड़ाया आता है ,धर्म की बात शुरू हो जाती है , जब धर्म की बात आती है तो हम सब हिंदुस्तानी हैं हम सबको बाते लग जाती है । आपको उकसाते हैं आपके जज्बातों को उभारते हैं और इसके आधार पर आपका वोट लेते हैं।

प्रियंका गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ आज देश में अपनी पहचान बना रहा है । उन्होंने कहा कि पूरे देश में सबसे कम बेरोजगारी दर छत्तीसगढ़ में है। छत्तीसगढ़ को सबसे ज्यादा धान खरीदी के दाम से जोड़कर देखा जा रहा है।

महिला आरक्षण बिल जो 10 साल लागू ही नहीं होगा – भाजपा सरकार पर प्रहार करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि यह ऐसा महिला आरक्षण बिल लेकर आए हैं जिससे पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई, फिर पता चला कि यह 10 साल तक तो लागू ही नहीं होगा। यह आरक्षण तो 10 साल तक महिलाओं को दिखेगा ही नहीं। उन्होंने कहा कि जब मोदी जी कहते हैं कि मैं ओबीसी हूं और ओबीसी की बात करते हैं तो वह जातिगत जनगणना की बात क्यों नहीं कहते। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी कह रही है कि गिनो देश में कितने ओबीसी हैं, देश में कितने दलित हैं, कितने आदिवासी हैं देश में कितने जनजाति के लोग हैं। जब गिनोगे ही नहीं तो मदद कैसे करोगे।

अदानी पर जमकर क्या प्रहार – प्रियंका गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस देश की संपत्ति यह लोग अपने बड़े-बड़े उद्योगपतियों और दोस्तों को दे रहे हैं यह उनकी संपत्ति नहीं है जिनको वे लोग बेच रहे हैं कौड़ियों के दम पर। उन्होंने कहा आज जितनी बड़ी-बड़ी सरकारी कंपनियां है  जैसे रेलवे, बी एच ई एल, एच ए एल, सबको देख लीजिए आज किसके हाथों में हैं। यह कल तक आपके हाथों में थी, कल तक आप कहते थे कि हमें इन कंपनियों में नौकरी लगवाइए, क्योंकि हमें सुरक्षा चाहिए सरकारी जॉब चाहिए। आज किसके हाथों में हैं देश के बंदरगाह , हवाई अड्डे किसके हाथों में है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके पास सरकारी कर्मचारियों की पेंशन के लिए पैसे नहीं है । उनसे कहिए कि उन उद्योगपतियों के खर्चे माफ करना बंद कर दीजिए, किसानों के कर्ज माफ करें और कर्मचारियों को पेंशन दें। उनकी हिम्मत नहीं है। आपकी संपत्ति बेची जा रही है। भाजपा सरकार जहां-जहां हैं वहां-वहां गरीबों से किसानों से मजदूरों से मिडिल क्लास से संपत्ति छीनी जा रही है और बड़े-बड़े उद्योगपतियों को दे दी जा रही है।

प्रियंका गांधी ने कहा आज दुनिया भर के जितने भी आदिवासी लोग हैं वे छत्तीसगढ़ को गर्व से देखते हैं। आज बस्तर का नाम हिंसा से नहीं जुड़ा है आज बस्तर का नाम मिलेट्स से जुड़ गया है , रागी से जुड़ गया है, यहां की रागी दुनिया की बड़ी-बड़ी दुकानों में बिक रही है मेरे घर में भी मैं खाती हूं आपकी उगी हुई रागी। उन्होंने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस की सरकार की योजनाओं का बखान करते हुए लोगों से सूझबूझ से काम लेने की बात कही।

कुरूद में यह चुनावी सभा अटल बिहारी वाजपई इंडोर स्टेडियम में आयोजित की गई। जहां लगभग 12000 लोगों की उपस्थित देखने को मिली। प्रियंका गांधी जैसी बड़े नेता के हिसाब से यहां के मैदान में माइक की व्यवस्था में कुछ कमी नजर आई। वहीं कांग्रेस के कुछ पुराने क्षेत्रीय बड़े नेता नदारत दिखे। लेकिन जनता में प्रियंका गांधी को लेकर उत्साह नजर आया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications