प्रधानमंत्री जनमन योजना : केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय के सचिव विभु नायर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये की योजना के तहत कार्यों की समीक्षा

धमतरी। केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय के सचिव श्री विभु नायर ने आज वीडियो क्रांफ्रेंसिंग के जरिये प्रदेश में प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत केन्द्र शासन की फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। इस अवसर पर राजधानी रायपुर से आदिम जाति आयुक्त नरेन्द्र कुमार दुग्गा वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़े, वहीं जिले में कलेक्टोरेट स्थित एनआईसी कक्ष में कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग डॉ.रेशमा खान, अनुविभागीय अधिकारी वन सहित अन्य अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंस से जुड़े रहे। इस दौरान प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत विशेष पिछड़ी जनजाति (पीवीटीजी) समूह के परिवारों के आधार कार्ड, जन धन खाता, आयुष्मान कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, राशन कार्ड, वन अधिकार पत्र, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना और प्रधानमंत्री आवास योजना सहित अन्य योजनाओं के प्रगति की समीक्षा की गई।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत जिले के विशेष पिछड़ी कमार जनजाति के कुल 122 बसाहटों में 6 हजार 339 परिवार निवासरत हैं, जिन्हें विभिन्न शासकीय योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है। इनमें धमतरी विकासखण्ड के 5 बसाहटों में 119, मगरलोड के 25 बसाहटों में 1710 और नगरी विकासखण्ड के 92 बसाहटों में 4510 कमार परिवार निवासरत हैं। बता दें कि गत दिनों कमार प्रमुखों के निर्णय अनुसार जिले में कुड़िया दिवस का आयोजन किया गया था, जिसमें प्रधानमंत्री आवास के तहत 716 हितग्राहियों के आवास निर्माण का एक साथ नींव रखी गई थी। इस कार्यक्रम में कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी सहित जिला स्तरीय अधिकारी भी शामिल हुये थे।

Leave a Comment

Notifications