छत्तीसगढ़ कहार भोई समाज महासभा ने किया शिक्षक मुकेश कश्यप का सम्मान

कुरुद। छत्तीसगढ़ कहार भोई समाज महासभा रायपुरा द्वारा शिक्षक सम्मान समारोह 2023 का भव्य आयोजन हुआ। इस अवसर पर समाज के शिक्षक रत्न सम्मानित हुए। जिसमें कुरुद कहार भोई समाज से शिक्षक के रूप में सेवा दे रहे निरंतर सक्रिय मुकेश कश्यप का भी सम्मान हुआ।

रविवार को यह कार्यक्रम रायपुरा स्थित कुलदेवी जगत जननी माँ परमेश्वरी मन्दिर सभाहाल में आयोजित हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत कुलदेवी की पूजा-वंदना से हुई। तदुपरांत सभी शिक्षकों का क्रमवार सम्मान हुआ। जिसमें महासभा अध्यक्ष भुवन लाल अवसरिया, उपाध्यक्ष पदमा कहार , सचिव पुष्कर कहार , कोषाध्यक्ष गणेशचन्द्र गोहिल के करकमलों से शिक्षक मुकेश कश्यप का सम्मान श्रीफल , शाल व स्मृति चिन्ह से सम्मान किया गया।

मंचीय उद्घोषक द्वारा मुकेश कश्यप का परिचय देते हुए न केवल शिक्षक के रूप बल्कि उनकी सामाजिक सक्रियता की भी तारीफ की। महासभा के कोषाध्यक्ष गणेशचन्द्र गोहिल जी ने मुकेश कश्यप की तारीफ करते हुए कहा कि श्री मुकेश जी शिक्षक के रूप में 18 वर्षों से लगातार अपनी सेवा दे रहे है। इसी तरह वे सामाजिक पदाधिकारी के रूप में भी निरंतर सक्रिय है। साथ ही साथ वे सोशल मीडिया व प्रत्यक्ष रूप से न्यूज रिपोटिंग ,शिक्षा विभाग की खबरें व अन्य आवश्यक जानकारी प्रेषित करते रहते है।इसी तरह वे गायन कला में भी निपुर्ण है।

मंच को सम्बोधित कर इस सम्मान के लिए आभार जताते हुए मुकेश कश्यप ने कहा कि वे हमेशा से ही कुछ न कुछ सीखने व कुछ नया कार्य करने पर विश्वास करते है। अपने शिक्षक जीवन पर प्रकाश डालते हुए मुकेश कश्यप ने बताया कि वे जब से 12 वीं पढ़कर निकले है,तब से वे शिक्षक के रूप में सेवा दे रहे है। उन्होंने इसी कार्य को करते हुए लगातार अपनी पढ़ाई जारी रखा और रविवि रायपुर से विज्ञान में स्नातक के बाद रविवि रायपुर से ही चार विषय हिंदी ,इतिहास ,राजनीति, व समाजशास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि हासिल की।

वहीं रविवि रायपुर से ही बीएड व पीजीडीसीए पढाई भी पूरी की।पढ़ाई के साथ-साथ वे एक पत्रकार के रूप में सेवा दे रहे है व धमतरी के एक वेबसाइट न्यूज चैनल छत्तीसगढ़ कौशल में जिलें के संवाददाता व कुरुद प्रेस क्लब के पदाधिकारी भी है। साथ ही विभिन्न सन्गठनों से जुड़कर सेवा कार्य मे सहभागिता भी प्रदान कर रहे है। जो कि निरंतर जारी रहेगा। मुकेश कश्यप ने आगे कहा कि अगर समाज के पदाधिकारी उन्हें अनुमति देते है तो वे समाज के सभी राज के युवाओं को महासभा हॉल में एक साथ बिठाकर कैरियर गाइडेंस के लिए प्रेरित कर मार्गदर्शन दे सकते है। इसी तरह सभी को कुछ नया सीखने के लिए प्रेरणा भी दे सकते है।तदुपरांत उन्होंने माँ कन्हाई परमेश्वरी जी की भक्ति से जुड़ा भक्तिमय गीत गाकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।श्री मुकेश के इस मंचीय उदगार व समाज के लिए दिए गए इस सन्देश व मधुर गीत का ताली की गड़गड़ाहट के साथ स्वागत हुआ।साथ ही उनकी मेहनत व निरंतर सक्रियता की तारीफ हुई।

कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ कहार भोई समाज महासभा अध्यक्ष भुवन लाल अवसरिया, उपाध्यक्ष पदमा कहार, सचिव पुष्कर कहार ,कोषाध्यक्ष गणेश चन्द्र गोहिल, मंजू भोई ,काजल कहार,कमलेश कहार, विक्रम कहार ,डीपी कहार,अजय कश्यप ,मुकेश अवसरिया , पोषण भोई,खूबलाल नाग ,प्रकाश गौतम सहित सभी राज से आए पदाधिकारी , राज-पंच व शिक्षकगण उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications