पुलिस अधीक्षक ने ली सभी राजपत्रित अधिकारियों की मीटिंग, लंबित अपराध एवं लंबित मामलों का निराकरण करने के दिये निर्देश

धमतरी। पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर ने सभी राजपत्रित अधिकारियों की मीटिंग ली। उन्होंने सभी राजपत्रित अधिकारियों को अपने अपने थाना क्षेत्रों के लंबित अपराधों,लंबित मामलों एवं लंबित शिकायतों के निकाल करने एवं लंबित मामले में पर्वेक्षण कर त्वरित निराकरण करने एवं अनसुलझे व लंबित मामलों पर चर्चा कर निकाल हेतु महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये। अपने अनुभाग के सभी थाना प्रभारियों को यातायात सुरक्षा माह में यातायात एवं सायबर सहित अन्य जागरुकता के संबंध में अभियान चलवाने के भी निर्देश दिये।
विजिबल पुलिसिंग के साथ-साथ संपत्ति संबंधी अपराधों को दृष्टिगत रखते हुये रात्रि गस्त एवं अपने-अपने अनुभाग के थाना क्षेत्रों में सतत् पेट्रोलिंग किये जाने एवं गुण्डे एवं असामाजिक तत्वों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। सभी राजपत्रित अधिकारियों को सामुदायिक पुलिसिंग के तहत अपने अपने अनुभाग के थाना प्रभारियों को अपने थाना क्षेत्रों के के गावों में चलित थाना लगाये एवं यातायात, सायबर एवं बालक बलिका,महिला संबंधी अपराध के संबंध में जागरूकता अभियान चलवाने के निर्देश दिये।
उन्होंने सभी राजपत्रित अधिकारियों को महिला एवं बच्चों से संबंधित अपराध तथा लंबित गंभीर मामलों के साथ-साथ चिटफंड कंपनी से संबंधित शिकायतों एवं आईटी एक्ट प्रकरणों की अपने स्तर पर समीक्षा कर निराकरण करने के लिए निर्देशित किया गया। समीक्षा मीटिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा गुम इंसान,गुम बालक बालिका के पतासाजी व दस्तयाब करने एवं प्राप्त साक्ष्य के आधार पर वैधानिक कार्यवाही करने निर्देशित किया गया है। साथ ही पतासाजी के संबंध में टीम गठित कर दुसरे प्रांत भेजकर दस्तयाब करने के भी निर्देश दिये।
महिला,बालक,बालिका संबंधी अपराधों में पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी किए गए निर्देशों तथा महिला संबंधी रिपोर्ट एवं शिकायत पत्रों पर किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतने के कड़े निर्देश दिये। क्षतिपूर्ति एवं राहत प्रकरणों के त्वरित निराकरण के भी निर्देश दिए गए।
थानावार लंबित अपराध, शिकायत, समंस/वारंट, मर्ग, गुम इंसान, चिटफंड कंपनियों के विरुद्ध पंजीबद्ध अपराध की समीक्षा उपरांत लंबित मामले का निराकरण करने कहा गया है। साथ ही सभी प्रभारी को अपने-अपने थाना क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने हेतु सूचना तंत्र मजबूत कर संपत्ति संबंधी अपराध जैसे लूट,चोरी, धोखाधड़ी आदि को रोकने के लिए अधिक से अधिक लघु व प्रतिबंधात्मक अधिनियम के तहत कार्यवाही करने तथा रात्रि गस्त एवं पेट्रोलिंग को सुदृढ़ करने हिदायत दी।
अनुभाग के सभी थाना क्षेत्रों के बदमाशों पर सतत् निगाह रखते हुए उनकी सक्रियता पाए जाने पर विधिवत प्रतिबंधात्मक कार्यवाही कर उनकी गतिविधियों पर अंकुश लगाने सख्त निर्देश दिये। न्यायालय द्वारा जारी समंस-वारंटो की तामीली एवं न्यायालयीन कार्यों को पूर्ण जवाबदेही के साथ समयावधि में निराकृत करने के निर्देश दिए। समयावधि पर तामिली नही किये जाने पर संबंधित अधिकारी/कर्मचारियों के उपर दंडात्मक कार्यवाही की जायेगी।
सभी थाना चौकी प्रभारी को अपने अपने थाना/चौकी क्षेत्रों में सघन एवं सुनसान क्षेत्रों में लगातार पेट्रोलिंग,एवं रात्रि गश्त करने एवं लगातार पैदल करने के निर्देश दिया गया। समीक्षा मीटिंग में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह,उप पुलिस अधीक्षक नेहा पवार,उप पुलिस अधीक्षक अजाक रागिनी मिश्रा,एसडीओपी.नगरी मयंक रणसिंह, उप पुलिस अधीक्षक भावेश साव,एसडीओपी.कुरूद के.के.वाजपेयी, डीएसपी.नक्स./ऑप्स आर.के.मिश्रा,थाना प्रभारी मगरलोड निरी.राजेश जगत, एसआरसी. लक्ष्मी ध्रुव,स्टेनो अखिलेश शुक्ला,रीडर सउनि.दिनेश चंदेल,एवं सभी रीडर,सहित पुलिस अधिकारी/ कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

Notifications