निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतगणना के लिए निर्वाचन आयोग प्रतिबद्ध – मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

बीजापुर जिले में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन स्ट्रांग-रूम में संधारित न होकर खुले में रखे पाए जाने की शिकायत निराधार

रायपुर। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने कहा है कि निर्वाचन आयोग द्वारा निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतगणना के लिए प्रतिबद्ध होकर कार्य किया जा रहा है। ईवीएम एवं डाकमतपत्रों की सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। ईवीएम हेतु स्ट्रांगरूम में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है।
बीजापुर जिले में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन स्ट्रांग-रूम में संधारित न होकर खुले में रखे पाए जाने की शिकायत निराधार है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने इस संबंध में स्पष्ट करते हुए कहा है कि प्रशिक्षण हेतु निर्धारित इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन जिनके सीरियल क्रमांक की जानकारी उम्मीदवारों को पूर्व से ही दी गई है, उन्हें प्रशिक्षण हेतु निर्धारित प्रशिक्षण स्थल कलेक्टरेट सभाकक्ष बीजापुर में लाया गया था तभी दूर से फोटो लिया गया है।
साथ ही मौके पर मतपेटियों के खुली पाए जाने तथा फटे मतपत्र चारों-ओर बिखरे पड़े होने एवं मत-पेटियों तथा मतपत्रों से छेड़-छाड़ के संबंध में स्पष्ट किया जाता है कि विधान सभा निर्वाचन में डाक मतपत्र के लिफ़ाफ़े गुलाबी रंग के हैं, जबकि प्रचारित फोटो और विडियो में भूरे रंग के लिफ़ाफ़ों को दर्शाया गया है, जिस से स्पष्ट है कि यह डाक मतपत्र या उनके लिफ़ाफ़े नहीं हैं। वास्तव में ये जिला निर्वाचन अधिकारी बीजापुर के कार्यालय में वीवीपेट के पर्चियों की गणना के लिए आवश्यक तैयार किए जा रहे पिजन होल में लगाए जा रहे प्रतीक चिन्ह के फोटो है। जो स्टील पेटियाँ फोटो मे दिखाई गई हैं वो जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय की स्टील पेटियाँ हैं जिसमें विविध निर्वाचन सामग्री रखी जाती हैं। अतः यह फोटो और विडियो जिसके आधार पर शिकायत की गई है भ्रामक एवं निराधार है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications