केंद्रीय शिक्षा मंत्री के हाथों से बीआरसीसी राजेश पाण्डेय को राष्ट्रीय अवार्ड

कुरूद @ मुकेश कश्यप। शैक्षिक प्रशासन में नवाचार के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए छत्तीसगढ़ से जिला धमतरी विकासखण्ड कुरुद के विकासखण्ड स्रोत समन्वयक राजेश कुमार पाण्डेय का चयन राष्ट्रीय शैक्षिक एवं योजना प्रशासन नई दिल्ली के द्वारा किया गया है। शैक्षिक प्रशासन में नवाचार के लिए राष्ट्रीय स्तर पर जिले एवं ब्लॉक के उत्कृष्ट शैक्षिक नवाचारी प्रशासक के रूप में शैक्षिक प्रशासन में नवाचारों और अच्छी प्रथाओं पर राष्ट्रीय सम्मेलन और पुरस्कार प्रस्तुति समारोह 4-5 दिसंबर 2023 को डॉ. अंबेडकर अंतर्राष्ट्रीय केंद्र, 15, जनपथ, नई दिल्ली में आयोजित किया गया। जहां भारत के समस्त राज्यो से चयनित अधिकारियों ने कॉन्फ्रेंस में अपने नवाचार की प्रस्तुति दी जिसमे छत्तीसगढ़ से चयनित नवाचार को सभी निर्णायकों ने न सिर्फ सराहा बल्कि छत्तीसगढ़ की प्रस्तुति हेतु अतरिक्त समय विकासखण्ड स्रोत समन्वयक राजेश पाण्डेय को स्वयं से निर्णायकों द्वारा दिया गया।
छत्तीसगढ़ के बेस्ट नवाचार को अपने विकासखण्ड स्तर पर बेहतर प्रदर्शन के परिणाम स्वरूप
राष्ट्रीय अवार्ड के लिए चयनित सबसे कम उम्र के युवा अधिकारी बीआरसीसी राजेश पाण्डेय के प्रस्तुति को सरकारी स्कूलों की कार्यप्रणाली में सुधार की श्रेणी में रखते हुए विकासखण्ड कुरुद में किये जा रहे कार्यो को समस्त शैक्षिक एवं योजना प्रशासन टीम द्वारा फीडबैक लिया गया।
कोविड काल मे ऑनलाईन कक्षाओं के सफल संचालन ब्लॉक नोडल के रूप में किया गया जिसमें जिले में सर्वाधिक बच्चो को ऑनलाईन कक्षा में जोड़कर जिले में प्रथम रहे।
वही विकासखण्ड स्रोत समन्वयक कार्यालय के संचालन एवं कार्यालय को स्वच्छ एवं सुंदर नया रूप देने भी इनके द्वारा विशेष प्रयास किया जाता रहा है।
विकासखण्ड में जनप्रतिनिधियों के सहयोग से बच्चो को शिक्षा की मुख्य धारा में जोड़ने हेतु विशेष पालक सम्पर्क अभियान, शिक्षको के साथ शैक्षिक संवाद, नियमित मॉनिटरिंग, छत्तीसगढ़ शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं सुघ्घर पढवाईया, गैर आवासीय शिक्षा प्रशिक्षण, एफएलएन, बालवाड़ी, सक्रिय पीएलसी, अंगना म शिक्षा आदि की प्रस्तुति राजेश पाण्डेय द्वारा प्रस्तुत किया गया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?

Notifications